शनिदेव धाम के उत्तराधिकारी महंत बने मंगला चरण

शनिदेव धाम के महथं परमा महाराज हये गोलोक वासी
उत्तराधिकारी के रूप में मंगलाचरण महाराज को महथं घोषित किया गया।
प्रतापगढ़। शनि देव धाम कुसफरा के महंत परमात्मानंद उर्फ परमा महाराज का प्रयागराज में निधन हो गया। पार्थिव शरीर उनकी जन्मभूमि जलालपुर प्रतापगढ़ में लाई गई जहां पर हजारों की संख्या में महिला पुरुष एकत्रित हुए और वहां से पार्थिव शरीर यात्रा शनिदेव धाम पहुंची।
शनिदेव धाम पर भारी संख्या में भीड़ उनके दर्शन एवं श्रद्धा सुमन अर्पित करने के लिए लालायित रही जिसमें महिला पुरुष और बालक भी थे। परमा महाराज अमर रहे शनि देव भगवान की जय के उद्घोष से क्षेत्र गुंजायमान रहा। इस अवसर पर एक शोक श्रद्धांजलि कार्यक्रम हुआ। जिसमें लोगों ने अपने श्रद्धा सुमन समर्पित कर भावपूर्ण सजल नेत्रों से श्रद्धांजलि अर्पित किया। पार्थिव शरीर का संस्कार प्रयागराज में उनके पुत्र महंत मंगलाचरण महाराज द्वारा किया गया
परमा महाराज के पुराने मित्र एवं जिनके द्वारा परमा महाराज को शनिदेव धाम पर 1985 में महथं के रूप में विराजित किया गया था। धर्माचार्य ओमप्रकाश पांडे अनिरुद्ध रामानुज दास रामानुज आश्रम प्रतापगढ़ कृपा पात्र श्री श्री 1008 स्वामी श्री इंदिरारमणाचार्य ने वरिष्ठ पत्रकार सूर्यभान सिंह जिन्होंने शनिदेव धाम पर विशेष शोध किया है के प्रस्ताव पर आपके सबसे छोटे पुत्र जो एक सामाजिक धार्मिक तथा लावारिस लाशों के तारणहार के रूप में अपने कर कमलों द्वारा करते हैं। उन्हे उत्तराधिकारी के रूप में शनि देव धाम मंदिर कुसफरा का महंत घोषित कर के अंगवस्त्रम एवं माल्यार्पण करके पीठ की गद्दी पर विराजित करने का कार्य किया। जिसका अनुमोदन कुंदन सिंह हरकेश सिंह संतोष द्विवेदी पूर्व सभासद दिनेश शर्मा प्रतिनिधि महेंद्र प्रताप सिंह मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार गिरधारी सिंह राजेश मिश्रा शास्त्री ने किया।
इस अवसर पर राजा अनिल प्रताप सिंह, सुरेंद्र द्विवेदी एडिशनल एस पी पूर्वी ,डॉ अतुल अंजान सीओ रानीगंज ,बच्चा मिश्रा, जे पी मिश्रा एडवोकेट, विद्याचरण मिश्रा, गुड्डन सिंह ,वैभव सिंह, ललन सिंह, मोती लाल विश्वकर्मा, पप्पू मिश्रा, शिव शंकर सिंह , अजय सिंह, धर्मेंद्र सिंह, जितेंद्र सिंह, डॉ सौरभ पांडे, हरिप्रसाद मिश्रा, भोले मिश्रा, डॉ श्रीकांत मिश्रा, रामबाबू मिश्रा, रामकिशोर पाल प्रधान ,जगदीश मिश्रा ,पंडित रघुनाथ, सरदार प्रधान, मुरली जी, शिव बहादुर सिंह, पप्पू महाराज संकट मोचन मंदिर, बबलू मिश्रा, रामबाबू मिश्रा, वेद प्रकाश तिवारी, रामकिशोर पाल प्रधान, एस वो फतनपुर एस वो मांधाता सहित भारी संख्या में पुलिस बल उपस्थित था। हजारों की संख्या महिला पुरुष बालकों ने अश्रुपूरित नयनों से अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मंदिर के महथं के रूप में मंगलाचरण महाराज को अपनी शुभकामना प्रदान किया।
महाराज श्री के त्रयोदशाह संस्कार तक सुरक्षा की जिम्मेदारी शनिदेव धाम के चौकी इंचार्ज को प्रदान की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *