सर्दी में अब तक 46 पशुओं को बोरे के कोर्ट का आवरण दिया गया।।

mn.।सर्दी में अब तक 46 पशुओं को बोरे के कोर्ट का आवरण दिया गया।।
पशुओं को भी सुख पूर्वक जीने का अधिकार हैः- रोशन लाल उमरवैश्य
पशु अर्थव्यवस्था के बहुमूल्य अंग हैः- डॉक्टर दयाराम मौर्य ‘रत्न’
एलायंस क्लब इंटरनेशनल प्रतापगढ़ द्वारा गत वर्षो की भांति इस वर्ष भी भीषण सर्दी को देखते हुए बेसहारा पशुओं के संरक्षण का अभियान चलाया जा रहा है सड़क पर लावारिस घूमते हुए गाय, बछड़े तथा भैंस इत्यादि को बोरे के कोट और बोरों का वस्त्र क्लब के सदस्य अंतरराष्ट्रीय एडवाइजर रोशनलाल उमरवैश्य की अगुवाई में पहना कर संरक्षित किया जा रहा है जल चारे तथा गुड़ इत्यादि की व्यवस्था भी क्लब की टीम करती है।
इसी क्रम में आज दहिलामऊ, पितईपुर, राजा पाल की टंकी तथा विवेक नगर के गली कूचे और चौराहों पर गाय तथा बछड़ों को पकड़कर बोरे तथा बोरे के कोट से आवृत्त किया गया अब तक इस सर्दी में 46 पशुओं को बोरे के कपड़ों से ढका गया।
पशुओं के संरक्षण के इस अभियान में सहयोग दे रहे बाल न्यायाधीश एवं वरिष्ठ साहित्यकार डॉ दयाराम मौर्य ने इस मानवीय अभियान की सराहना करते हुए कहा कि पशु अर्थव्यवस्था के बहुमूल्य अंग हैं समाज के प्रत्येक व्यक्ति तथा संस्था को पशुओं की सुरक्षा करनी चाहिए पशुओं को घर तथा बाडो़ में बाँध कर रखना चाहिए घूमते पशु दुर्घटना के कारण बनते हैं।
अभियान का नेतृत्व करने वाले क्लब के अंतरराष्ट्रीय एडवाइजर तथा समर्पित समाजसेवी रोशनलाल उमयवैश्य ने कहा कि विगत कई वर्षों की भांति जरूरतमंदों को कंबल तथा पशुओं के आवरण वस्त्र आदि वितरण कर कार्य पूरे जाड़े के मौसम में चलता रहेगा धरती पर पशु को भी जीने का उतना ही अधिकार है जितना मनुष्यों को अभियान में आनंद मोहन ओझा, विवेक कुमार यादव, राजीव कुमार आर्या, दुर्गा प्रसाद यादव, संतोष कुमार, सुरेश अग्रवाल, छेदीलाल, पूनम गुप्ता, देवेंद्र गुप्ता, शिवेश शुक्ला, देवानंद, अनुप उपाध्याय इत्यादि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *